इस आसान तरीको से होती बिजली चोरी

कर्मचारियों के मुताबिक पढ़े-लिखे लोग भी बिजली चोरी में पीछे नहीं है। ऐसे लोग ‘स्मार्टली’ बिजली चोरी को अंजाम देते हैं। यानि सामान्य रूप से देखने में यह पता भी नहीं चलता कि बिजली चोरी की जा रही है।
डिजिटल मीटर में भी छेड़छाड़

ANDROID SMARTPHONE का यह फीचर्स मैसेज खुद टाइप करेगा
बिजली कंपनी के कर्मचारियों ने बताया कि सीधे खंभे से तार डालने के कारण तुरंत ही चोरी पकड़ में आ जाती है और कार्रवाई की जाती है। अब भी ज्यादातर क्षेत्रों में चोर ऐसे ही चोरी करते करते हैं। लेकिन कई मामले ऐसे भी सामने आए हैं जब पढ़े लिखे लोग मीटर को बायपास कर चोरी करते पकड़े गए।
कर्मचारियों ने बताया कि इसमें कुछ मामले ऐसे भी आए हैं जिसमें न्यूट्रल को कंट्रोल कर बिजली चोरी की जा रही थी। इसके तहत इनकमिंग न्यूट्रल के तार को ब्रेक कर अर्थ दे देते हैं।
मीटर भी कर रहे शॉट

WHATSAPP को और बनाये सिक्योर,टू स्टेप वेरिफिकेशन फीचर्स से
बिजली कंपनी के कर्मचारियों ने बताया कि कुछ जगह मीटर को शॉट करने के मामले सामने आए हैं। इमसें डिस्प्ले बराबर दिखता रहता है लेकिन मीटर की रीडिंग नहीं बढ़ती। जब इन मीटरों की जांच होती है तभी बिजली चोरी सामने आती है। मैग्नेट का प्रयोग इन मीटरों पर नहीं होता।
डिस्प्ले भी किया खराब

क्यों इस देश में लड़कियां किराए पर लेती है ब्वॉयफ्रेंड
कई मामलों में मीटर का डिस्प्ले भी उड़ाया गया। इससे पूरे घर में बिजली तो सप्लाई होती है पर डिस्पले काम नहीं करता। एक तरह से मीटर हैंग हो जाता है। इसके अलावा खंभे से मीटर में आने वाले तार को भी बीच से ही काटकर बायपास करने के मामले भी आए हैं।
मीटर रीडर्स को कहा नजर रखें

आप भी करते है इन्टरनेट पर यह काम तो हो सकती है जेल
कंपनी के कर्मचारियों ने बताया कि मीटर रीडर्स को कहा गया है कि वे रीडिंग के दौरान नजर रखें। अगर मीटर गड़बड़ लगता है या तीन-चार महीने से रीडिंग बहुत कम बढ़ रही है तो इसकी जानकारी अपने कर्मचारियों को दें। ऐसे मीटर में छेड़खानी कर चोरी की संभावना बढ़ जाती है।


loading...