इस मेड इन इंडिया कार को एक बार चार्ज करने से चलेगी 200 किलोमीटर

दिल्ली की Startup कंपनी रिमान मोटर्स आने वाले 2 साल में कंपनी अपने 3 उत्पाद – टू-सीटर Electric car, 6-सीटर Electric सिटी ट्रांसपोर्ट बस और 4-सीटर Electric car के साथ बाज़ार में उतरेगी. 2 सीटर car पर खर्च सिर्फ 50 पैसा/किमी है. टैप कर जानें कितनी कीमत पर घर ला सकते हैं ये Electric वाहन?

दिल्ली की स्टार्टअप कंपनी रिमान मोटर्स LLP एक टू-सीटर Electric car पर काम कर रही है. मज़ेदार बात है कि इस बैटरी को कभी बदलने की ज़रूरत नहीं पड़ती और आरटी90 नाम की इस car में 4जी कनैक्टेड आईओटी प्लैटफॉर्म दिया गया है. कंपनी की यह car एक बार फुल चार्ज करने पर 200 किलोमीटर तक चलाई जा सकती है. डायरेक्ट करंट से चार्ज करने पर 10 मिनट में car की बैटरी फुल चार्ज हो जाती है, वहीं अल्टरनेटिव करंट इस्तेमाल करने पर इसे फुल चार्ज होने में 1-2 घंटे का समय लगता है. रिमान मोटर्स दिल्ली एनसीआर की सोसाइटियों के भी अपने साथ जुड़ने और कॉलोनी के अंदर चार्जिंग स्टेशन खोलने का निवेदन करने वाली है.

फिलहाल कंपनी इस car को सड़कों पर टेस्ट कर रही है और हमारा मानना है कि इस car को 2018 के मध्य तक लॉन्च किया जाएगा. आपके लिए भी यह car फायदे का सौदा हो सकती है क्योंकि इसपर होने वाला खर्च सिर्फ 50 पैसा/किमी है. अगर आप इस car पर मालिकाना हक चाहते हैं तो आपको 6-8 रुपए/किमी देना होगा और यह बिना किसी हिडन चार्ज और ज़ीरो डाउन पेमेंट के साथ होगा. अच्छे क्रेडिट स्कोर वाले लोग इस car को अपना क्रेडिट car स्वाइप कराके सिर्फ 600 में घर लेकर जा सकते हैं और आईओटी से लैस इस car की रोज़ाना कीमत चुका सकते हैं. इस car को 4जी कनैक्टिविटी दी गई है जिससे car को ट्रैक और मैनेज किया जा सकता है.
आने वाले 2 साल में कंपनी अपने 3 उत्पाद – टू-सीटर Electric  car 6-सीटर इलैक्ट्रिक सिटी ट्रांसपोर्ट बस और 4-सीटर Electric  car  के साथ बाज़ार में उतरेगी. इस बारे में रिमान मोटर्स के फाउंडर कैप्टन युवराज कपूर ने कहा कि, “हमारा मकसद एक सुरक्षित कार बनाना है जिसमें बाज़ार में उपलब्ध सभी तकनीकों का इस्तेमाल किया जाएगा.” जहां भारत सरकार Electric  वाहनों पर ज़ोर देने में कोई कसर बाकी नहीं छोड़ रही, वहीं बाज़ार में ऐसे मेक इन इंडिया स्टार्टअप को कितना सराहा जाएगा ये आने वाला समय बताएगा.


loading...